छत्तीसगढ़

दुष्कर्म आरोपित ग्रामीण की पिटाई से नहीं हुई थी मौत, पत्नी ने रस्सी से घोंट दिया था गला, अवैध संबंध बना घटना की वजह

अंबिकापुर

सनावल थाना क्षेत्र के दुष्कर्म आरोपित ग्रामीण की मौत पिटाई से नहीं बल्कि गला घोंटने से हुई थी।आरोपित पत्नी ने ही शराब के नशे में सो रहे पति की नायलोन की रस्सी से गला घोंट कर हत्या कर दी थी। सनावल पुलिस ने घटना का पर्दाफाश कर आरोपित पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। अवैध संबंध इस पूरे घटनाक्रम की मुख्य वजह बनी। सनावल थाना क्षेत्र के 40 वर्षीय ग्रामीण की बीते 17 जुलाई की भोर में घर में ही संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।पुलिस ने रामानुजगंज में शव का पोस्टमार्टम कराया था।पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाने से मौत की पुष्टि के बाद सनावल थाना प्रभारी उप निरीक्षक अमित बघेल के नेतृत्व में पुलिस ने जांच शुरू की तो मृतक की पत्नी की भूमिका संदिग्ध पाई गई। शुरू में तो उसने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया लेकिन जब सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने स्वीकार किया कि घटना दिवस की रात पति ने शराब सेवन किया था।चूंकि उसके साथ मारपीट की गई थी इसलिए किसी को शक न हो इसी मंशा से उसने नारियल की रस्सी से गला घोंट कर पति की हत्या कर दी थी और साक्ष्य छिपाने का प्रयास किया था।मामले का पर्दाफाश करने में सहायक उप निरीक्षक कृपानिधान पाण्डेय, प्रधान आरक्षक विकास कुजूर, प्रकाश तिर्की व थाना स्टाफ सक्रिय रहे।

पुलिस की जांच में पता चला कि मृतक की पत्नी आरोपित महिला का देवर के साथ में पिछले दो साल से अवैध संबंध था। देवर के विवाह के बाद भी दोनों का संबंध जारी रहा।बीते बारह जुलाई को देवर की पत्नी ने पति को भाभी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था।

देवर-भाभी के बीच अवैध संबंध से परिवार में विवाद हुआ था।आरोपित महिला ने साजिश रची कि पति से देवरानी का संबंध स्थापित हो जाए तो वह उसका(आरोपित)देवर के साथ संबंधों की बात किसी को नहीं बताएगी।सुनियोजित साजिश के तहत बीते 13 जुलाई 2021 को आरोपित महिला ने पति को डराकर अपनी देवरानी के साथ में संबध स्थापित करा दिया और स्वंय वहां पर उपस्थित रही।आरोपित महिला ने देवरानी और पति को यह बात किसी को नही बताने की धमकी भी दी थी क्योंकि आरोपित महिला हमेशा देवर के साथ में अवैध संबंध रखना चाहती थी।

Related Articles