जांजगीर चांपा

कांटेक्ट ट्रेसिंग में गति लाएं और कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराएं: कलेक्टर

व्यवसायिक संस्थानों, आम जनता को कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने के निर्देश

  • राजस्व, पुलिस, सीएमओ, नगर पालिका को टीम बनाकर कराएंगे कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन
  • जिला स्तरीय कोविड केयर कमेटी करेगी स्थिति की नियमित समीक्षा

जांजगीर-चांपा

कलेक्टर जितेंद्र कुमार शुक्ला ने आम नागरिकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा और कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कांटेक्ट ट्रेसिंग कार्य में तेजी लाने और कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष में आज आयोजित जिला स्तरीय कोविड कोर कमेटी की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एस आर बंजारे को निर्देशित कर कहा कि वे कोविड संक्रमित मरीजों का पता लगाने और उनके इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित करने टेस्टिंग की संख्या बढ़ाए और कांटेक्ट ट्रेसिंग का कार्य गंभीरता से कराएं। कलेक्टर ने कोविड संक्रमण के लक्षण वाले लोगों को कोविड की दवा मितानिनों के माध्यम से वितरित कराने के निर्देश दिए।

कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन 

कलेक्टर ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचने और आम जनता के स्वास्थ्य की सुरक्षा के मद्देनजर कोविड-19, प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने रेल मार्ग द्वारा अन्य प्रांतों से जिले में आने वाले प्रवासी श्रमिकों, यात्रियों की स्टेशन नहीं कोविड टेस्ट कराने तथा पॉजिटिव आने पर उन्हें क्वारंटीन करने के निर्देश दिए हैं। यह कार्य उन्होंने रेलवे अधिकारियों ,कर्मचारियों के साथ समन्वय बनाकर करने कहा है।
उन्होंने शादी समारोह, अंत्येष्टि में नियत संख्या से अधिक लोगों की भीड़ न हो, यह सुनिश्चित करने कहा है। उन्होंने समारोह आयोजकों से कहा है कि वे शादी विवाह में 50 और अंत्येष्टि में अधिकतम 20 लोग ही शामिल होएं और कोविड प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करें। इनमें समारोह में सभी आगंतुकों का मास्क पहनना, 2 गज की दूरी का पालन और स्वच्छता एवं हाथों को नियमित अंतराल में सेनीटाइज करते रहना शामिल हैं।
कलेक्टर ने आम जनता से अपील कर कहा है कि वे लक्षण दिखने पर तत्काल कोविड टेस्ट अवश्य कराएं। जांच में कोताही बरतने पर परिवार के अन्य सदस्यों को भी संक्रमण की आशंका बढ़ सकता है। कलेक्टर ने बैठक में कोविड की दवा और वैक्सीन की उपलब्धता की जानकारी लेते हुए सीएमएचओ को वैक्सीन की मांग सतत रूप से शासन से करने के निर्देश दिए ।

कलेक्टर, एसपी भी करेंगे आकस्मिक निरीक्षण

कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के लिए कलेक्टर श्री जितेंद्र कुमार शुक्ला और एसपी श्री प्रशांत सिंह ठाकुर भी चौक चौराहों, ब्यावसायिक संस्थानों, समारोह स्थलों का आकस्मिक निरीक्षण करेंगे। कोविड-19, कॉल का उल्लंघन होने पर संबंधित के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिला प्रशासन की टीम निरीक्षण के दौरान शारीरिक दूरी का पालन, मास्क का उपयोग सुनिश्चित कराएंगे। ग्रामीण क्षेत्र में बीएमओ, सीईओ, जनपद द्वारा बाजार भीड़भाड़ वाले स्थानों की चेकिंग की जाएगी। कलेक्टर ने उक्त अधिकारियों को खंड स्तर पर बैठक कर स्थिति की नियमित समीक्षा करने के निर्देश दिए हैं।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत सिंह ठाकुर ने आम जनता को कोविड-19, संक्रमण से बचाव और जागरूकता के लिए विभिन्न माध्यमों से व्यापक प्रचार-प्रसार की आवश्यकता बताई। उन्होंने कहा कि निरीक्षण दल चेकिंग के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराएं। उन्होंने विभिन्न माध्यमों से कोविड से सुरक्षा के लिए प्रचार प्रसार करने की आवश्यकता बताई। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री गजेंद्र सिंह ठाकुर, अपर कलेक्टर श्रीमती लीना कोसम, सीएमएचओ डॉ एस आर बंजारे, डॉक्टर जगत, डॉक्टर लहरें, डीपीएम सुश्री विभा टोप्पो सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles