छत्तीसगढ़

भ्रष्टाचार: अनुकंपा नियुक्ति के एवज में 35 हजार घूस, DEO सहित शिक्षा विभाग के तीन कर्मचारी निलंबित

बालोद

बालोद जिले के जिला शिक्षा अधिकारी आरएल ठाकुर सहित जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के लेखापाल और एक शिक्षक को अनुकंपा नियुक्ति के लिए एक महिला से 35 हजार रुपए लेन-देन के आरोप में स्कूल शिक्षा विभाग ने निलंबित कर दिया है। जानकारी के अनुसार मामला पिछले माह निधन हुए शिक्षक सुभाष बेलचंदन का है। उनकी पत्नी तरुणा बेलचंदन की सहायक ग्रेड 3 में अनुकंपा नियुक्ति होनी थी। इसके लिए डीईओ समेत तीनों कर्मियों पर 35 हजार रुपए घूस लेने का आरोप है। इसकी शिकायत स्कूल शिक्षा विभाग में हुई थी। जांच के बाद विभाग ने यह कार्रवाई की है।

तीनों को किया तत्काल प्रभाव से निलंबित
स्कूल शिक्षा विभाग से जारी आदेश के अनुसार यह छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (आचरण) नियम, 1965 के नियम 3 के विपरीत गंभीर कदाचार है। इस वजह से तीनों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। निलंबन अवधि में आरएल ठाकुर का मुख्यालय लोक शिक्षण संचालनालय, महेन्द्र कुमार चन्द्राकर एवं जितेंद्र देशमुख का मुख्यालय संभागीय संयुक्त संचालक (शिक्षा) दुर्ग रहेगा। निलंबन अवधि में इन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

35 हजार रुपए लेने का आरोप प्रमाणित
स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से जारी निलंबन आदेश के अनुसार तरुणा बेलचंदन की सहायक ग्रेड 3 के पद पर अनुकंपा नियुक्ति के लिए बालोद डीईओ आरएल ठाकुर, जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के लेखापाल महेंद्र कुमार चंद्राकर व पूर्व माध्यमिक शाला भरदा (लोहारा) के शिक्षक जितेंद्र देशमुख पर 35 हजार रुपए लेने के आरोप था। प्रारंभिक जांच में लेन- देन का मामला प्रमाणित पाया गया।

Related Articles