Advertisement
छत्तीसगढ़

तहसील ऑफिस में एसीबी का छापा, रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ाया नायब तहसीलदार

धमतरी: धमतरी तहसील के नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल को एंटी करप्शन ब्यूरो ने 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया. शुक्रवार शाम एसीबी की टीम धमतरी तहसील ऑफिस पहुंची और किसान की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए नायब तहसीलदार को गिरफ्तार किया.

जमीन विवाद सुलझाने मांगी थी 1 लाख रुपये की रिश्वत: पोटियाडीह गांव में दिलीप गोस्वामी का पोटियाडीह गांव में 85 डिसमिल जमीन पर लंबे समय से कब्जा था. उसी कब्जे वाली जमीन को आशीष गोयल नाम के व्यक्ति ने खरीदा. इसी जमीन को लेकर दोनों पक्षों में काफी दिनों से विवाद चल रहा था. आशीष गोयल ने जमीन विवाद सुलझाने धमतरी तहसील कार्यालय में आवेदन दे रखा था.

यह विवाद धमतरी तहसील कार्यालय में फैसले के लिए लंबित था. इसी दौरान धमतरी के नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल ने 85 डिसमिल जमीन पर कब्जा दिलाने के लिए दिलीप गोस्वामी से एक लाख रिश्वत की मांग की. दिलीप गोस्वामी ने इतनी बड़ी रकम देने में असमर्थता जताई. जिसके बाद 50 हजार रुपये देने के बाद जमीन का कब्जा दिलाने की बात तय हुई. लेकिन दिलीप गोस्वामी ने इस मामले की शिकायत एसीबी से कर दी.

नायब तहसीलदार को पैसे लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा: एसीबी के एडिशनल एसपी डी तिर्की ने बताया कि दिलीप गोस्वामी ने 6 जून को नायब तहसीलदार ने शिकायत की थी. ऑडियो रिकॉर्डिंग के आधार पर शुक्रवार को 50 हजार रुपये देने के दौरान आरोपी नायब तहसीलदार क्षीर सागर बघेल को रंगे हाथों पकड़ा. इस कार्रवाई से तहसील ऑफिस में हड़कंप मच गया है. देर रात तक तहसील ऑफिस में अफसरों की मौजूदगी रही. नायब तहसीलदार से भी रात तक पूछताछ की गई.

Related Articles

Leave a Reply