देश

सरकारी बैंक के एम्प्लॉई की मौत पर परिवार को मिलेगी सैलरी के 30% बराबर पेंशन, NPS में 40% बढ़ेगा PSB का योगदान

नई दिल्ली

केन्द्र सरकार ने सरकारी बैंकों के मृत कर्मियों के परिवार को मिलने वाली पेंशन बढ़ाने का फैसला किया है. अब परिवार को बैंक कर्मी की मौत के बाद आखिरी सैलरी के 30% के बराबर पेंशन मिलेगी. केन्द्र सरकार के इस फैसले के बाद मृत बैंक कर्मियों के परिवार को मिलने वाली पेंशन 30,000 से 35,000 रुपये तक हो जाएगी. पहले इस पर 9,284 रुपये की कैप थी. वित्त सेवा सचिव देवाशीष पांडा ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में की. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण दो दिन के मुम्बई दौरे पर हैं. बुधवार को उन्होंने सरकारी बैंकों के कामकाज की वार्षिक समीक्षा की. इस दौरान सरकारी बैंकों के संबंध में लिए गए निर्णयों की जानकारी देने के लिए उन्होंने प्रेस से बात की. केन्द्र सरकार ने सरकारी बैंक कर्मियों के पेंशन फंड में भी योगदान बढ़ाने का निर्णय किया है. न्यू पेंशन सिस्टम (NPS) के तहत अभी बैंक कर्मियों के पेंशन फंड में 10% योगदान वो खुद करते हैं और 10% सरकारी बैंक यानी कि एम्प्लॉयर. अब बैंकों की तरफ से होने वाले योगदान को 40% बढ़ाकर 14% करने का निर्णय किया गया है. इसी के साथ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि उन्होंने बैंकों को राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम करने के लिए कहा है. ताकि ‘वन डिस्ट्रिक, वन एक्सपोर्ट’ के एजेंडा को आगे बढ़ाया जा सके. वहीं पूर्वोत्तर के राज्यों के लिए उन्होंने बैंकों से अलग-अलग राज्य के लिए अलग-अलग योजनाएं बनाने के लिए कहा है. इसमें भी उनसे लॉजिस्टिक और एक्पोर्ट के एरिया पर फोकस करने के लिए कहा गया है. इसके अलावा उन्होंने तेजी से बढ़ते फिनटेक सेक्टर को बैंकों से सहारा देने की बात भी कही. निर्मला सीतारमण ने कहा कि सामूहिक तौर पर सरकारी बैंकों का प्रदर्शन कोविड-19 महामारी के बावजूद बेहतर रहा है. सरकारी बैंक त्वरित सुधारत्मक कार्रवाई (PCA) के दायरे से बाहर आए हैं. वहीं सरकारी बैंकों का विलय भी आसान रहा और इसका फायदा उन्हें हुआ है. उनकी बैलेंस शीट में प्रॉफिट नजर आ रहा है. वहीं कंपनियों की सीधी ओवरसीज लिस्टिंग के मुद्दे पर राजस्व सचिव तरुण बजाज ने कहा कि सरकार इस पर बातचीत कर रही है और वो भी चाहती है कि इस पर सफलता मिले.

Related Articles