जांजगीर चांपा

जांजगीर-चांपा: बिना सूचना आबकारी अधिकारी अनुपस्थित….कलेक्टर नाराज

  • महतारी दुलार योजना में पात्र सभी विद्यार्थियों को शाला में प्रवेश दिलाएं – कलेक्टर
  • कार्मिक संपदा प्रपत्र जमा नहीं करने वाले 6 अधिकारी,कर्मियों का रूकेगा वेतन,
  • खाद की जमाखोरी, मुनाफाखोरी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश,

जिला पंचायत में साप्ताहिक समीक्षा बैठक

जांजगीर-चांपा

कलेक्टर श्री जितेंद्र कुमार शुक्ला ने कहा कि कोविड-19, से प्रभावित सभी पात्र बच्चों को शाला प्रवेश दिलाने की कार्यवाई की जाए। वे आज जिला पंचायत जांजगीर के सभाकक्ष में विभागीय अधिकारियों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में बताया गया कि जिले सक्ती जिला के अंतर्गत 158 और जांजगीऱ के अंतर्गत 280 पात्र विद्यार्थियों को महतारी दुलार योजना के तहत शालाओं में प्रवेश दिलाया गया है।
बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित कर कहा है कि वे टीएल बैठक में अपरिहार्य कारणों से अनुपस्थित रहने की स्थिति में उन्हें सूचित करें और अनुमति प्राप्त करें। उन्होंने बिना किसी पूर्व सूचना के जिला आबकारी अधिकारी की बैठक में अनुपस्थित रहने पर गहरी नाराजगी जाहिर की। कलेक्टर ने ऐसे 6 अधिकारी कर्मचारी जिनके द्वारा अब तक जिला कोषालय जांजगीर में कार्मिक संपदा प्रपत्र भरकर प्रस्तुत नहीं करने पर उनका सितंबर माह का वेतन रोकने के निर्देश जिला कोषालय अधिकारी को दिए।
कलेक्टर ने गौठानों के निरीक्षण, गोबर क्रय, कन्वर्जिंग, वर्मी खाद विक्रय आदि की व्यवस्था के लिए नियुक्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित कर कहा कि वे गौठानों में निर्देशानुसार व्यवस्था सुनिश्चित करें। प्रभारी अधिकारियों द्वारा निरीक्षण की समीक्षा आगामी सप्ताह की जाएगी।


बैठक में कलेक्टर ने आयुष्मान कार्ड निर्माण और वितरण की तथा कोविड-19, टीकाकरण, मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना की प्रगति की समीक्षा की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में राज्य शासन की फ्लैगशिप योजनाओं नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना की समीक्षा करते हुए योजनाओं का सकारात्मक क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए।

खाद की कालाबाजारी, मुनाफाखोरी और जमाखोरी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें –

बैठक में कलेक्टर ने उप संचालक कृषि श्री तिग्गा को निर्देशित कर कहा कि जिले के किसानों को खाद उचित मूल्य पर मिले यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने उर्वरकों की जमाखोरी, कालाबाजारी और मुनाफाखोरी के विरुद्ध त्वरित कड़ी कार्रवाई करने ‌के निर्देश दिए।

19 से 24 सितंबर तक राज्य स्तरीय खेलों का आयोजन –

जिला शिक्षा अधिकारी श्री डी.के. कौशिक ने बैठक में बताया कि जांजगीर में 21 सितंबर से 24 सितंबर तक फुटबॉल टेनिस आदि खेलों का राज्य स्तरीय शालेय खेल का आयोजन किया जाएगा। इसमें 700 खिलाड़ी, खेल अधिकारी, कोच शामिल होंगे। कलेक्टर द्वारा प्रतियोगिता के आयोजन के लिए विभागीय अधिकारियों को भोजन, आवास, स्वच्छता, परिवहन आदि के लिए दायित्व सौंपें गए। कलेक्टर ने कहा कि खेलों का आयोजन कोविड-19, प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाए।

जांजगीर से चांपा तक सड़क की मरम्मत के निर्देश –

कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग, सीएमओ, नगरपालिका जांजगीर नैला, चांपा को निर्देशित कर कहा कि वे आपसी समन्वय से जांजगीर शहर से लेकर चांपा तक सड़कों के गड्ढों की मरम्मत का कार्य शीघ्र शुरू करें।

सेवा निवृत्त कर्मियों के स्वतवों का शीघ्र भुगतान करें –

कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित कर कहा कि वे उनके विभाग के सेवानिवृत्त अधिकारी, कर्मियों को सामान्य भविष्य निधि, ग्रेच्युटी सहित अन्य स्वत्वों, पेंशन आदि के भुगतान की कार्यवाही गंभीरता से करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपने स्तर की सभी औपचारिकताएं शीघ्र पूर्ण करें। ताकि सेवानिवृत्त कर्मियों की देयताओं का यथाशीघ्र भुगतान तथा पेंशन योजनाओं का लाभ मिल सके।

Related Articles