रायपुर

दोस्त की मां से थे डॉक्टर के अवैध संबंध, MP से रायपुर लाकर दोस्त ने ही होटल में गला घोंटकर मारा, शॉर्ट PM रिपोर्ट ने खोल दिया राज

रायपुर

 शहर के गंज थाना इलाके में बीते बुधवार की शाम MP के एक डॉक्टर के खुदकुशी मामले में चौंका देने वाला खुलासा हुआ है। घटना संदीप होटल के कमरे में हुई थी। तब ये बात सामने आई थी कि फोन पर पत्नी से झगड़ा होने की वजह से डॉक्टर ने खुदकुशी कर ली है, पर ये पूरी कहानी झूठी निकली है। ये कहानी दरअसल डॉक्टर के साथ कमरे में रह रहे उसके दोस्त ने ही पुलिस को सुनाई थी। परिवार के लोगों ने भी विवाद होने की बात कबूली थी, इसलिए सबने यकीन भी किया, मगर अब इस केस में बड़ा खुलासा हुआ है। डॉक्टर का दोस्त ही उसका कातिल निकला। गला दबाकर उसी ने जान ली और लाश को फंदे से लटकाया था। आरोपी ने बताया कि उसने पूरी वारदात को डॉक्टर के उसकी मां से अवैध संबंध होने के कारण अंजाम दिया। 21 सितंबर को मध्यप्रदेश के उमरिया के रहने वाले डॉक्टर जितेंद्र विश्वकर्मा (34) ने अपने दोस्त अनूपपुर निवासी अजय निषाद के साथ रायपुर आकर होटल संदीप में कमरा लिया था। मध्यप्रदेश से आए इन दोनों युवकों ने होटल वालों को रायपुर शॉपिंग के लिए आना बताया था। गुरुवार को पुलिस को जितेंद्र के खुदकुशी कर लेने की खबर मिली थी। जब टीम जांच के लिए आई तो दोस्त अजय ने बताया था कि वो खाने का पार्सल लेने नीचे गया था। जितेंद्र का दिनभर अपनी पत्नी से झगड़ा हो रहा था फोन पर जब वो लौटा तो जितेंद्र ने कमरे में तोड़-फोड़कर फांसी लगा ली। इस केस में अब जब पुलिस के हाथ शॉर्ट पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट लगी तो पूरा मामला पलट गया। शॉर्ट पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में जितेंद्र की मौत गला दबाने से होने का जिक्र था। ये भी लिखा था कि मौत के बाद उसे फंदे से लटकाया गया है। पुलिस ने पहले ही शक के आधार पर जितेंद्र के दोस्त को MP लौटने से रोक रखा था। हालांकि, इस बीच जितेंद्र का शव परिजन को दे दिया गया था। अजय का झूठ बेपर्दा हो चुका था। अब उसने पूछताछ में बेहद हैरान करने वाली बातें पुलिस को बताईं। उसने बताया कि वो जितेंद्र की हत्या करने की प्लानिंग से ही उसे यहां लेकर आया था। दोनों के बीच गहरी दोस्ती थी। दोनों के परिवारों के बीच भी घरेलू संबंध थे। मगर इस घरेलू संबंध में एक अवैध संबंध भी पनप उठा। 34 साल के डॉक्टर जितेंद्र का आरोपी अजय की अधेड़ मां से रिश्ता था। दोनों के बीच बीते कई महीनों से संबंध था। इस बात की खबर अजय को लग गई। दोस्त ने मां को अपने प्रेमजाल में फंसा रखा ये जानकार उसने उसकी हत्या करने की ठान ली। जितेंद्र पहले से शादीशुदा था। उसकी पत्नी से नहीं बनती थी। इसी अनबन को अजय ने अपनी हत्या की प्लानिंग और सुसाइड की झूठी कहानी का आधार बना लिया। शॉपिंग करने के बहाने वो जितेंद्र को रायपुर ले आया। जितेंद्र के परिवार और पुलिस को पत्नी से अनबन को सुसाइड कर लेने की वजह बताकर कहानी पुलिस को सुना दी थी।

Related Articles