बिलासपुर

चक्रधरपुर रेलवे में ट्रैक पर विस्फोट, हावड़ा से बिलासपुर आने वाली ट्रेनों के थमें पहिए

बिलासपुर

चक्रधपुर रेल मंडल के सोनुवा व लोटापहाड़ा के बीच में माओवादियों ने शुक्रवार की रात दो बजे ट्रैक में विस्फोट किया। इस घटना से ट्रेन या यात्री तो हताहत नहीं हुए पर ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह ठप हो गया। सुबह हावड़ा से रायगढ़, बिलासपुर व रायपुर स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेनें अभी तक नहीं पहुंची। इसके चलते यात्री परेशान है। हालांकि रेलवे को उम्मीद है कि ट्रेनें शाम तक पहुंच जाएंगी। यह घटना हावड़ा- मुंबई मेल के गुजरने के तुरंत बाद हुई। इस घटना के बाद हड़कंप मच गया। ट्रेनों को यथावत जगहों पर रोक दी गई। इनमें हावड़ा- पुणे आजाद हिंद एक्सप्रेस, हावड़ा- मुंबई सरमसता एक्सप्रेस, हावड़ा- हापा एक्सप्रेस, हावड़ा- अहमदाबाद एक्सप्रेस समेत एक दर्जन से अधिक ट्रेनें शामिल है। बताया जा रहा है बिलासपुर स्टेशन से होते हुए हावड़ा जाने वाली ट्रेनों के पहिए भी अलग- अलग स्टेशनों में थमे हुए हैं। डाउन मुंबई – हावड़ा मेल को सोनुवा-लोटापहाड़ के बीच आसनतलिया गांव के पास सुनसान जगहों पर खड़ी कर दी गई। गीतांजलि ट्रेन भी प्रभावित हुई। शनिवार की सुबह हावड़ा से केवल मेल बिलासपुर पहुंची पर भी करीब दो घंटे देरी से सुबह 9:15 बजे। इस ट्रेन में जिनका रिजर्वेशन था ऐसे यात्री तो रवाना हो गए। पर इसकी बाद की ट्रेनों के यात्री स्टेशन में इंतजार करते रहे। ट्रेनें अब तक बिलासपुर नहीं पहुंची है। हालांकि यात्री बार- बार स्टेशन मास्टर व पूछताछ केंद्र पहुंचकर ट्रेनों की देरी और आगमन के संबंध में जानकारी ले रहे हैं। लेकिन उन्हें संतोषप्रद जवाब नहीं मिल पा रहा है। हालांकि एक संभावना जरुर जताई जा रही है कि ट्रेनें शाम तक बिलासपुर पहुंचेंगी। इस लेटलतीफी का असर वापसी में भी बढ़ेगा। कुछ ट्रेनों को रिशेड्यूल की जा सकती है।

Related Articles