जांजगीर चांपा

गार्ड की हत्या मामले में एसपी ने TI को किया लाइन अटैच; 3 पुलिसकर्मियों का ट्रांसफर, शराब दुकान के अंदर 10 दिन पहले हुआ था मर्डर

जांजगीर

जिले में शराब दुकान के गार्ड की हत्या मामले में पुलिस अब तक आरोपी को नहीं पकड़ सकी है। इस बीच जिले के एसपी ने तबादला आदेश जारी किया है। एसपी के इस आदेश को गार्ड की हत्या मामले में अब तक कार्रवाई नहीं होने से जोड़ जा रहा है। वहीं यह भी कहा जा रहा है कि इस इलाके में लगातार आपराधिक घटनाएं बढ़ रहीं थी। जिसकी वजह से यह कार्रवाई हुई है। एसपी प्रशांत ठाकुर ने टीआई पर कार्रवाई के अलावा 3 अन्य पुलिस कर्मियों का तबादला किया है। जिसके मुताबिक मुलमुला थाना के टीआई जितेंद्र बंजारे को लाइन अटैच कर दिया है। मुलमुला थाना इलाके में ही गार्ड की हत्या हुई थी। इस मामले में ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया था। ग्रामीणों ने 36 घंटे तक जांजगीर-बिलासपुर रोड बंद कर दिया था। आदेश के मुताबिक सारागांव थाना प्रभारी सुरेश ध्रुव को मुलमुला थाना भेजा गया है। उपनिरीक्षक संतोष कुमार शर्मा को पामगढ़ से सारागांव का प्रभारी बनाया गया है। इनके अलावा उपनिरीक्षक व्यास नारायण बनाफर को रक्षित केन्द्र से नवागढ़ भेजा गया है। 10 दिन पहले नरियरा गांव में शराब दुकान में महेश्वर शांडिल्य(42) की हत्या कर दी गई थी। उसके चेहरे को तकिए से दबाया गया था। उसके शरीर पर काफी चोट के निशान भी मिले थे। इसी वजह से आशंका थी कि उसकी धारदार हथियार से हत्या की गई है। घटना के बाद महेश्वर के गांव के लोगों ने चक्काजाम कर दिया था। उन्होंने रोड पर ही टायर जलाकर विरोध जताया था।

Related Articles