छत्तीसगढ़

पहले शादीशुदा प्रेमिका को भगाया, फिर किया बेटी का अपहरण, दोस्तों ने भी दिया साथ, जानें- क्राइम की वजह

कवर्धा

कोतवाली पुलिस ने नाबालिग बच्ची के अपहरण के आरोप में एक युवक व उसके एक नाबालिग दोस्त को गिरफ्तार (Arrest) किया है. घटना में तीन आरोपी शामिल हैं, जिनमें तीसरा आरोपी फरार है. नाबालिग के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मुख्य आरोपी सूरज वर्मा को रायपुर से गिरफ्तार कर लिया है. मामले में उसका साथ देने वाले एक नाबालिग साथी को भी पकड़ा गया. इसके अलावा एक अन्य आरोपी फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है. मामला कोतवाली थाने के ग्राम जीताटोला का है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक जीताटोला की रहने वाली महिला तीन माह पहले अपने प्रेमी सूरज के साथ भाग गई थी. महिला की एक चार साल की बेटी है, जिसे वह अपने पति के पास ही छोड़ दी थी. एक दिन अचानक महिला को अपनी बेटी की याद आई. जिस पर उसने बीते रविवार को अपने प्रेमी को उसे लाने के लिए कहा. प्रेमी सूरज अपने दो साथियों के साथ कवर्धा के जीताटोला गांव आया, जहां तीनों ने पहले रेकी की. इसके बाद बच्ची को बाइक में बिठाकर अपने साथ ले गए. बच्ची के पिता पक्ष ने पहले नाबालिग की तलाश की, लेकिन जब वह कहीं नजर नहीं आई तो उन्होंने कोतवाली पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. उन्होंने नाबालिग की मां और उसके प्रेमी पर शंका जाहिर की. जिसके बाद परिजनों की शिकायत पुलिस ने बच्चे की मां के कब्जे से उसे छुडाया है. वहीं प्रेमी व उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. कवर्धा एसपी डॉ लाल उमेद सिंह ने बताया कि कोतवाली पुलिस फरार आरोपी की तलाश में जुट गई है. फिलहाल महिला के खिलाफ कोई मामला नहीं बनाया गया है. परिजन बच्चे की चिंता कर रहे थे, जिसे सकुशल वापसी होने पर पुलिस व परिजनों ने राहत की सांस ली है.

Related Articles