रायपुर

छत्तीसगढ़ पहुंची कोवीशील्ड की 3.79 लाख डोज, अब जिलों में भेजे जाएंगे

रायपुर

छत्तीसगढ़ में कोरोना वैक्सीनेशन की कमी का संकट फिलहाल टल गया है। केंद्र सरकार ने गुरुवार को दो खेप में कोवीशील्ड की 3.79 लाख डोज भेजे हैं। स्वास्थ्य विभाग अब इस वैक्सीन को अलग-अलग जिलों को आवंटित करने की तैयारी कर रहा है।राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. वीआर भगत ने बताया, आज मुंबई और पुणे से आई नियमित उड़ानों में वैक्सीन की दो खेप आई हैं। पहली खेप दोपहर एक बजे पहुंची। इसमें एक लाख 50 हजार डोज वैक्सीन थी। वैक्सीन की दूसरी खेप थोड़ी देर पहले पहुंची है, इसमें 2.29 लाख डोज है। इसको हवाई अड्‌डे से रिसीव कर राज्य वैक्सीन भंडार में पहुंचा दिया गया है। जल्दी ही इसके वितरण की व्यवस्था शुरू की जाएगी। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से प्रदेश के विभिन्न जिलों में टीकाें की किल्लत महसूस की जा रही थी। डॉ. वीआर भगत ने बताया, आज जब वैक्सीनेशन शुरू हुआ तो प्रदेश भर में केवल 75 हजार टीके उपलब्ध थे। अब टीकों की इस नई खेप के आ जाने से जिलों को पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति संभव हाे पाएगी। अधिकारियों ने बताया, दूरदराज के सभी जिलों में टीकों की खेप पहुंचने में एक-दो दिन लग सकता है। उनके वहां पहुंच जाने के बाद टीकाकरण की प्रक्रिया सामान्य हो जाएगी।

डॉ. वीआर भगत ने बताया कि कोवैक्सिन की आपूर्ति के लिए अगली तय तारीख 18 जुलाई वाली खेप को एक साथ मिलाकर वे एक-दो दिनों में उसे भेज देंगे। 18 जुलाई को कोवैक्सिन के 48 हजार डोज आने वाले थे। प्रदेश में टीकोें की कमी की वजह से कई टीकाकरण केंद्रों को बंद कर दिया गया है। अभी प्रदेश में रोजाना औसतन 70 से 75 हजार लोगों को ही टीका लग पा रहा है। बुधवार को प्रदेश भर में 75 हजार 550 लोगों को टीका लगा था। प्रदेश में अभी तक एक करोड़ 8 लाख 62 हजार 376 लोगों को टीके की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है।

Related Articles