Uncategorized

लॉज में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 4 लड़कियां मुक्त 6 आरोपी गिरफ्तार

कल्याण 

महाराष्ट्र के डोंबिवली में पुलिस ने एक धार्मिक स्थल के पास लॉज में चलाए जा रहे सेक्स रैकेट का भंडोफोड़ कर दिया. यह कार्रवाई पुलिस के एंटी ह्यूमन ट्रैफिक सेल ने अंजाम दी. मौके से चार युवतियो को छुड़ाया गया. जबकि लॉज के मैनेजर सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है.जानकारी के मुताबिक डोंबिवली के पूर्व में सांगर्ली चौक पर बालाजी दर्शन भवन है. इसी इमारत में होटल विराज साईराज लॉजिंग और बोर्डिंग है. लॉज में सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिलने के बाद सोमवार की रात एंटी ह्यूमन ट्रैफिक सेल ने लॉज में छापा मारा. जहां चार युवतियां देह व्यापार करती मिलीं. एंटी ह्यूमन ट्रैफिक सेल ने सेक्स रैकेट का पर्दाफाश कर दिया.यह गोरखधंधा प्रसिद्ध बालाजी मंदिर के आसपास चल रहा था. पुलिस के मुताबिक साईराज उर्फ ​​विराज लॉजिंग बोर्डिंग में कई दिनों से देह व्यापार किया जा रहा था. पुलिस ने पहले फर्जी ग्राहक लॉज में भेजा और सूचना की पुष्टि की. इसके बाद छापेमारी की गई. जिसमें पुलिस ने चार युवतियों को लॉजिंग-बोर्डिंग के मैनेजर, कैशियर, दो वेटर और दो दलालों के चंगुल से छुड़ाया.वहां से मुक्त कराई गई युवतियों को रिहा कर महिला सुधार केंद्र भेजा गया है. तिलकनगर थाने में लॉज के मैनेजर, एक कैशियर, दो वेटर और एक युवा सप्लायर समेत दो दलालों के खिलाफ अनैतिक व्यापार रोकथाम अधिनियम, 1956 की धारा 376 (2), 370 (3), 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने कहा कि आरोपियों को मंगलवार को कल्याण अदालत में पेश किया गया और आगे की पूछताछ के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. इस क्षेत्र की पुलिस डोंबिवली जैसे सुशिक्षित सांस्कृतिक शहर में चल रहे देह व्यापार की अनदेखी क्यों करती है? ये सवाल स्थानीय लोगों की जबान पर है.

Related Articles