Advertisement
देश

मोदी-पुतिन की मीटिंग से आई नई खुशखबरी… नासिक में बनेगा Su-30 Fighter Jet

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मॉस्को मुलाकात के दौरान यह खबर आई है कि दोनों देश मिलकर Su-30 Fighter Jet के मैन्यूफैक्चरिंग का काम भारत में कर सकते हैं. यानी महाराष्ट्र के नासिक स्थिति हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड की फैक्ट्री में Su-30 फाइटर जेट बनाए जाएंगे.

ये फाइटर जेट भारत में बनकर दुनिया भर में भेजे जाएंगे. नासिक की इसी फैक्ट्री में पहले MiG-21 फाइटर जेट्स बनाए जाते थे. आपको बता दें कि सुखोई सू-30 फाइटर जेट दुनियाभर के कई देशों की वायुसेना इस्तेमाल करती है. खासतौर से मिडिल ईस्ट, अफ्रीका, एशिया और लैटिन अमेरिका.

यह दुनिया के सबसे ताकतवर फाइटर जेट्स में शामिल है. यह एक मल्टीरोल कॉम्बैट एयरक्राफ्ट है. जो हवा से जमीन और हवा से हवा में एकसाथ युद्ध लड़ सकता है. यह तेज और धीमी गति में हवा में कलाबाजियां खाते हुए दुश्मन को धोखा देते हुए उनपर हमला कर सकता है.

इसमें 30mm की ग्रिजेव-शिपुनोव ऑटोकैनन लगी है. जो एक मिनट में 150 राउंड फायर करती है. यानी दुश्मन का विमान, ड्रोन या हेलिकॉप्टर बच नहीं सकते. इसमें 12 हार्ड प्वाइंट्स लगे हैं. 4 तरह के रॉकेट्स लगा सकते हैं. चार तरह की मिसाइल और 10 तरह के बम लग सकते हैं. या फिर इन सबका मिश्रण.

Su-30 के हार्डप्वाइंट्स में हथियारों को दागने की सुविधा ज्यादा है. अगर मल्टीपल रैक्स लगाए जाएं तो इसमें 14 हथियार लगा सकते हैं. यह कुल 8130 KG वजन का हथियार उठा सकता है. इसमें ब्रह्मोस मिसाइलें भी तैनात हो सकती हैं. यानी भारतीय मिसाइलों का मार्केट भी इसके सहारे बढ़ सकता है.

Related Articles

Leave a Reply