छत्तीसगढ़

DRG जवानों ने घेराबंदी कर 1 लाख रुपए के इनामी को पकड़ा, IED ब्लास्ट सहित कई घटनाओं में रहा शामिल

जगदलपुर/दंतेवाड़ा

दंतेवाड़ा पुलिस ने एक इनामी नक्सली को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक, दंतेवाड़ा पुलिस को मुखबिर से पुख्ता सूचना मिली थी कि बचेली इलाके के पढ़ापुर के जंगल पहाड़ी में कई नक्सलियों की मैजूदगी है। इसी सूचना के आधार पर गुरुवार सुबह DRG के जवानों को इलाके की सर्चिंग के लिए निकाला गया था। जब जवान पढ़ापुर के जंगल-पहाड़ी की तरफ पहुंचे तो एक संदिग्ध व्यक्ति जवानों को देख छिपकर भागने की कोशिश कर रहा था। इस पर जवानों ने उसे घेराबंदी कर दबोच लिया। गिरफ्तार नक्सली आयतु हपका उर्फ कोल्ला कुंजाम नक्सलियों की हुर्रेपाल पंचायत मिलिशिया प्लाटून का कमांडर है। उसके ऊपर सरकार की ओर से से 1 लाख रुपए इनाम घोषित था। सर्चिंग पर निकले जवानों ने इसे पाढ़ापुर के जंगलों से गिरफ्तार किया है। दंतेवाड़ा SP डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया की आयतु कई बड़ी घटनाओं में शामिल रहा है। पूछताछ में उसने अपना नाम आयतु हपका (25) बताया। जिसकी पहचान 1 लाख रुपए के इनामी नक्सली के रुप में पुलिस ने की है। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार नक्सली आयतु पर जिले के अलग-अलग थाना में कई अपराध भी दर्ज हैं।

इन घटनाओं में था शामिल

  • साल 2008 में बचेली और कमालूर के बीच नेरली घाटी में गिट्टी की ढुलाई करने जा रही 4 हाइवा वाहनों को आग के हवाले किया था।
  • साल 2009 में बचेली और भांसी के बीच नेरली घाट में 3 वाहनों को रोक कर आग लगाने की घटना में शामिल था।
  • साल 2010 में भांसी रेलवे स्टेशन में हमला कर मजदूरों के कई सामानों को लूट कर ले गया था।
  • साल 2011 में बचेली और भांसी के बीच रेलवे ट्रैक उखाड़ने की घटना में शामिल था।
  • साल 2012 में NMDC की 5 वाहनों में आगजनी की घटना में शामिल था।
  • साल 2014 में मिरतुर CAF कैंप पर हमला करने की घटना में शामिल था।
  • साल 2015 में बचेली NMDC डिपॉजिट नम्बर 5 में कन्वेयर बेल्ट के नीचे IED प्लांट कर ब्लास्ट करने की घटना में शामिल रहा है।
  • साथ ही इलाके में कई ग्रामीणों की हत्या, लूट व सड़क काटने से लेकर कई वारदातों को अंजाम दिया है।

Related Articles