जांजगीर चांपा

शील साहित्य परिषद ने किया साहित्यकारों एवं समासेवियों का सम्मान

जाँजगीर

शील साहित्य परिषद जांजगीर द्वारा नगर के स्मृति शेष विभूतियों एवं परिषद के सदस्यों के दिवंगत परिजनों के नाम पर चयनित साहित्यकारों एवं समाजसेवियों का सम्मान 20 अक्टूबर को होटल दीवान इन में किया गया। जांजगीर में आयोजित इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक नारायण चंदेल, विशिष्ट अतिथि विनोद निगम होशंगाबाद, दिनेश प्रभात भोपाल एवं विजय दुबे थे। प्रातः 10 बजे काव्य गोष्ठी एवं पुस्तक विमोचन तथा 1 से 5 तक सम्मान समारोह व अतिथियों का उद्बोधन कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। मुख्य अतिथि चंदेल ने अपने उद्बोधन में कहा शील साहित्य परिषद साहित्य का बीजारोपण करने वाली संस्था है। साहित्य समाज को न सिर्फ मार्ग दिखाती है बल्कि उसकी समस्या का समाधान भी करती है। सम्मान हमारे कार्य को प्रोत्साहन देता है। परिषद का यह कार्य अनुकरणीय है। विशिष्ट अतिथि विनोद निगम ने कहा कविता लिखने के लिए विषय खोजने की जरूरत नहीं, हमारे आसपास कविताएँ बिखरी पड़ी हैं उसे पहचानना ही कवि का धर्म है। गीतगागर के सम्पादक दिनेश प्रभात ने कहा जांजगीर जैसी साहित्यिक नगरी कहीं नहीं है। शील साहित्य का आयोजन अद्भुत है। शील साहित्य के अध्यक्ष विजय दुबे ने बताया हमारी संस्था न सिर्फ साहित्य बल्कि विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों का भी सम्मान करती है। परिषद द्वारा स्वर्गीय नरेंद्र श्रीवास्तव की स्मृति में गीत शिल्पी सम्मान डॉ आर पी सारस्वत, पंडित राज किशोर द्विवेदी स्मृति साहित्य चेतना सम्मान पवन तिवारी मुंबई , पंडित जगदीश चंद्र तिवारी स्मृति गद्य श्री सम्मान सुशील सरित आगरा, पंडित शिव प्रसाद शर्मा स्मृति कथा रत्न सम्मान मधुकांत रोहतक, स्वर्गीय केसरी राम यादव स्मृति चंद्र सुधाकर सम्मान ओम नीरव लखनऊ, स्वर्गीय शैलेंद्र जी देवी राठौर समिति को नारी गौरव सम्मान डॉ शशि जोशी अल्मोड़ा, पंडित रोहित चतुर्वेदी शिक्षा गौरव सम्मान पुष्पेंद्र कश्यप कमरीद, स्वर्गीय मदन लाल गुप्ता स्मृति सांस्कृतिक चेतना सम्मान डॉ वीरेंद्र बहादुर सिंह राजनांदगांव, स्वर्गीय कमला देवी गोपाल स्मृति हास्य हीरक सम्मान विनोद साहू, दुर्गेश नाथ शर्मा स्मृति कलानिधि सम्मान वेदराम यादव चांपा, स्वर्गीय भरत लाल आदित्य स्मृति लोक निधि सम्मान डॉ रमाकांत सोनी, स्वर्गीय भागीरथी पैगवार स्मृति सम्मान रमेश सिंघानिया बाराद्वार एवं पंडित राम कुमार दुबे स्मृति निबंध रत्नाकर सम्मान नीता चौबीसा बांसवाड़ा को दिया गया। कार्यक्रम का संचालन सतीश सिंह द्वारा किया गया।कार्यक्रम में विजय राठौर, कृष्ण कुमार पांडेय, बलदेव शर्मा, प्रमोद आदित्य, संतोष कश्यप, भैयालाल नागवंशी, दिनेश रोहित चतुर्वेदी, दयानंद गोपाल, सुरेश पैगवार, अंकित राठौर, सुनील सिंघानिया, उमाकांत टैगोर, श्रद्धा महंत, पुनीता दरियाना, चन्द्रकिरण सोनी, गुहाराम गोपाल, रमेश गोपाल, उदयराम राठौर, महेश राठौर, विष्णु राठौर, रामरतन तंबोली, अमित श्रीवास्तव, अरविंद द्विवेदी, सुनीता पांडेय, नवनीत राठौर,अभिषेक क्षत्रिय, घनश्याम शर्मा, मोहन राठौर, बृजमोहन राठौर, भावना पैगवार, प्रियंका गोपाल, राजकुमारी चतुर्वेदी, पूजा चतुर्वेदी सहित साहित्यकार एवं नगरवासी उपस्थित थे

Related Articles