देश

डेंटल सर्जन की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा में नंबर बढ़ाने……रिश्वत मामले में डिप्टी सेक्रेटरी गिरफ्तार

हरियाणा

पब्लिक सर्विस कमिशन का डिप्टी सेक्रेटरी और एचसीएस अनिल लागर को स्टेट विजिलेंस ने रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है. आरोप है कि उन्होंने डेंटल सर्जन की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा में नंबर बढ़ाने के लिए 90 लाख रुपये की रिश्वत ली गई. विजिलेंस ने 90 लाख रुपये के साथ एचसीएस अधिकारी नागर को धर दबोचा है. बताया जा रहा है कि मामले में झज्जर और भिवानी जिले के रहने वाले दो अन्य आरोपी भी गिरफ्तार किए गए हैं. दरअसल, सरकार को शिकायत मिलने पर स्टेट विजिलेंस ने यह कार्रवाई करते हुए रेड मारी थी. जानकारी के अनुसार, डेंटल सर्जन की भर्ती ये परीक्षा 26 सितंबर को हुई थी. इस मामले में विजिलेंस ने 17 नवंबर को एफआईआर दर्ज की थी. भिवानी के रहने वाले नवीन कुमार को विजिलेंस की टीम ने 20 लाख की रिश्वत के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार किया था. जिसको 18 नवंबर को कोर्ट में पेश किया गया. जहां से कोर्ट ने आरोपी को जिसको चार दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा है.

Related Articles