रायपुर

हॉस्टल में एडमिशन नियमों को लेकर राजधानी में छात्रों ने घेरा शिक्षामंत्री का बंगला

रायपुर

सिविल लाइन इलाके में शनिवार को प्रदेश के अलग-अलग जिलों से आए स्टूडेंट्स ने शिक्षामंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम के बंगले का घेराव कर दिया। सड़क पर छात्रों ने धरना देते हुए शिक्षा मंत्री के बंगले के सामने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया । सभी स्टूडेंट्स की जिद थी कि शिक्षामंत्री उनसे मुलाकात करें। काफी देर तक चले हंगामे के बाद स्टूडेंट्स ने शिक्षा मंत्री के दफ्तर में मौजूद अफसरों से बातचीत की और अपनी मांग से उन्हें अवगत कराया। प्रदेश के सभी हॉस्टल में बरती जा रही लापरवाही, और हॉस्टल में एडमिशन के नियमों को लेकर छात्रों ने यह विरोध प्रदर्शन किया था। हॉस्टल में दिए जाने वाले खाने की क्वालिटी, टॉयलेट की साफ-सफाई हॉस्टल वार्डन की सही नियुक्ति जैसे मामलों को लेकर स्टूडेंट्स ने अपना ज्ञापन शिक्षा मंत्री के नाम सौंपा है। छात्रों ने बताया कि यह फिलहाल एक सांकेतिक विरोध प्रदर्शन था यदि जल्द से जल्द उनकी मांगों पर फैसला सरकार नहीं करती तो बड़े आंदोलन की तैयारी करेंगे। शिक्षा मंत्री के बंगले के बाहर विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे छात्रों ने बताया कि हॉस्टल में एडमिशन के लिए एज लिमिट 25 साल तक कर दी गई है। जबकि पढ़ाई के लिए कोई आयु सीमा नहीं है । दूसरे शहरों से आकर अगर पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स को इस वजह से परेशानी हो रही है। उन्हें हॉस्टल की सुविधा नहीं मिलती।

Related Articles