Advertisement
छत्तीसगढ़

ब्रूसली की धारदार हथियार और पत्थरों से ली गई जान, गैंगवार का खूनी अंजाम

भिलाई

भिलाई-3 थाना क्षेत्र देवबलोदा गांव में एक युवक की धारदार हथियार और पत्थर से कुचल कर हत्या कर दी गई. घटना 5 जून की रात 12 बजे के आसपास की है. पुलिस ने हत्या के वारदात में शामिल सभी आरोपियों की पहचान कर ली है.आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें रवाना की गई है. वारदात में शामिल सभी आरोपी अवैध कामों में लिप्त बताए जा रहे हैं.

कौन है मृतक : पुलिस की माने तो जिस युवक की हत्या की गई है,उसका नाम चिरंजीवी उर्फ ब्रूसली था. वो खुद अवैध कामों में लिप्त था.इसी वजह से उसकी स्थानीय लोगों के साथ पुरानी रंजिश थी.इस वारदात में पुलिस के अनुसार 7 से 8 युवक शामिल हैं. आरोपी ज्यादा भी हो सकते हैं,क्योंकि लड़ाई वर्चस्व की थी.

दो गुटों की रंजिश का नतीजा : भिलाई – 3 टीआई पीडी. चंद्रा ने बताया कि देवबलोदा निवासी चिरंजीवी उर्फ ब्रूसली सी केबिन के पास गांधीनगर देवबलोदा क्षेत्र में अवैध काम करता था.जुआ सट्टा, गांजा, शराब के कार्यों में लिप्त था. ब्रुसली को देर रात 12 बजे के करीब देव बलोदा क्षेत्र में 8 से 9 युवकों ने धारदार हथियार के साथ घेरा.इस दौरान चारों ओर से उस पर हमला किया गया.इस हमले में ब्रूसली की मौत हो गई.

”आरोपियों की मृतक से अवैध कार्यों को लेकर पुरानी रंजिश चली आने की चर्चा है. आरोपी भी अवैध कार्यों में लिप्त बताए जाते हैं.पुरानी रंजिश के कारण हत्या की गई है.आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी.”- पीडी चंद्रा, टीआई,भिलाई 3

पुलिस की माने तो हत्या से पहले मृतक के साथ कुछ युवकों ने शराब पी.इसी दौरान ब्रूसली की जिस अर्जुन गैंग से रंजिश थी,उसको इस बात की भनक लग गई.अर्जुन गैंग ने दूसरे गैंग के लड़कों को इकट्ठा किया.इसके बाद रात को जब मौका पाया तो ब्रूसली पर टूट पड़े. घटना की सूचना पर से पुरानी भिलाई पुलिस एवं क्राइम ब्रांच की टीम घटनास्थल पर पहुंची. वारदात में शामिल आरोपियों की पहचान करने के बाद गिरफ्तारी का प्रयास तेज कर दिया गया है.

Related Articles

Leave a Reply