Advertisement
छत्तीसगढ़

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ में वनकर्मियों को अर्द्धनग्न कर पीटा, रेंजरों के पैसे-मोबाइल लूटे, अतिक्रमण हटाने पहुंची थी टीम

गरियाबंद

छत्तीसगढ़ में वन विभाग की टीम से मारपीट की घटना सामने आ रही है. गरियाबंद जिले के उदंती सीतानदी अभयारण्य में अतिक्रमण हटाने पहुंचे रेंजर सहित वन विभाग की टीम से बदसलूकी, मारपीट और लूटपाट किया गया है. हालात ऐसे थे कि वन कर्मचारियों को बिना कपड़ों के जान बचाकर वहां से भागकर अपनी जान बचानी पड़ी. उदंती के शोभा क्षेत्र की यह घटना है.

अतिक्रमण हटाने पहुंची टीम से की मारपीट : जानकारी के मुताबिक, शनिवार को वन विभाग की टीम गरियाबंद जिले के उदंती अभयारण्य में अतिक्रमण हटाने पहुंची थी. इस दौरान तौरेंगा वन परिक्षेत्र में गोना नवापारा के कुछ लोग वन भूमि में अवैध रूप से जुताई का काम कर रहे थे. इसी दौरान जब उन लोगों ने वन अमले को देखा, तो सभी आरोपी वहां से अपने वाहन लेकर भाग निकले. अवैध कब्जा धारियों के जाने के बाद वन अमला उस जगह का मुआयना करने लगी. तभी गांव की ओर से करीब 25-30 लोग मौके पर आ धमके. अतिक्रमण से रोकने पर नाराज ग्रामीणों ने रेंजर समेत वन कर्मचारियों को चारों तरफ से घेरकर पकड़ लिया.

कपड़े उतरवाए, मोबाइल-पैसे भी छीने : रेंजर समेत वन कर्मचारियों को पकड़ने के बाद उन लोगों ने रेंजर और बाकी तीनों वन कर्मियों के साथ बदसलुकी करने लगे. उन्होंने वन कर्मियों के कपड़े उतरवाए और मोबाइल-पैसे भी छीन लिया. फिर वन कर्मियों की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की. इस दौरान उन लोगों ने सरकारी वाहन में भी तोड़फोड़ की. इसके बाद वन कर्मी किसी तरह से जान बचाकर भागे और साड़ी लपेटकर थाने पहुंचे. घायल रेंजर और वन कर्मचारियों को पुलिस ने इलाज के लिए थाने से मैनपुर अस्पताल लाया गया है, जहां चारों का इलाज किया जा रहा है.

आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई में जुटी पुलिस : घायल रेंजर समेत वन कर्मचारियों की शिकायत पर पुलिस ने 25 से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. पुलिस हमलावरों की पहचान करने में जुटी है.

Related Articles

Leave a Reply