देश

पहले काटा हाथ, फिर सिर-गर्दन पर वार… सीतापुर में क्लीनिक में घुसकर डॉक्टर की हत्या

सीतापुर

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में आज एक डॉक्टर की निर्मम हत्या कर दी गई. वारदात सीतापुर के हरगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत मुद्रासन में हुई. दिनदहाड़े एक शख्स ने डॉक्टर पर तलवार से हमला किया और उनकी निर्मम हत्या कर दी. आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया है. हरगांव थाना क्षेत्र के ग्राम मुद्रासन में स्थित अपने निजी चिकित्सालय में डॉक्टर मुनेंद्र प्रताप वर्मा मरीज देख रहे थे, तभी एक व्यक्ति तलवार लेकर क्लीनिक में घुस आया. उस व्यक्ति ने तलवार निकालकर डॉक्टर मुनेंद्र पर ताबड़तोड़ प्रहार शुरू कर दिए. किसी तरह दरवाजा खोल कर डॉक्टर ने मदद के लिए पुकार लगाई.बताया जा रहा है कि आरोपी ने तलवार से पहले डॉक्टर मुनेंद्र प्रताप वर्मा का हाथ काटा, फिर उनके सिर और गर्दन पर कई वार किए. तभी डॉक्टर ने मदद की गुहार लगाई. इसके बाद क्लिनिक में मौजूद उनके स्टाफ व अड़ोस – पड़ोस के लोग दौड़े लेकिन तब तक डॉक्टर का काफी खून बह चुका था और उन्होंने वहीं दम तोड़ दिया.खास बात है कि जिस जगह पर डॉक्टर मुनेंद्र प्रताप वर्मा पर तलवार से हमला किया गया, वहां से पुलिस पिकेट की दूरी महज चंद कदम है. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, हमलावर ने अपने हाथ मे चाकू भी ले रखा था.इस घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस फोर्स पहुंच गई. हमलावर को गांव से ही गिरफ्तार कर लिया गया है. इस बड़ी वारदात ने पुलिस महकमे में हड़कंप मचा दिया. मौके पर एसपी आरपी सिंह भी पहुंच गए.मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह ने हमलावर अच्छे लाल विश्वकर्मा को तलवार के साथ गिरफ्तार करने की बात कही. एसपी के मुताबिक, प्रथम दृष्टया जमीन के पैसे के लेनदेन के चलते इस घटना के कारित होने की बात सामने आई है, लेकिन पुलिस अन्य पहलुओ पर भी जांच कर रही है. इस वारदात के बहाने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधा. अखिलेश ने ट्वीट करके कहा, ‘सीतापुर के हरगांव क्षेत्र में एक डॉक्टर की तलवार से हत्या व उनके पिता पर क़ातिलाना हमले की दुर्दांत घटना से प्रदेश भयभीत है, घटना-स्थल से कुछ ही दूरी पर पुलिस पिकेट होने के बावजूद सरेआम ऐसी घटना घट जाना भाजपा सरकार में अपराधियों के बेख़ौफ़ हौसलों को दर्शाता है.’

Related Articles