छत्तीसगढ़

एक ही परिवार के तीन सदस्य नदी में डूबे: एनीकट पार करते समय माता-पिता और 9 साल की बच्ची नदी में गिरी, पत्नी का शव मिला, दो की तलाश जारी

मुंगेली

जिले के बगबुड़वा गांव निवासी उतरा मरावी (45) अपनी पत्नी रामेश्वरी (40) और 9 साल की बेटी अन्नपूर्णा के साथ सुबह करीब 9.30 बजे आगर नदी पर बने एनीकट को पार कर रहे थे। इसी दौरान पैर फिसलने से तीनों नदी में गिर पड़े। ग्रामीणों ने हादसा होते देखा तो दौड़कर मौके पर पहुंचे। उन्होंने किसी तरह रामेश्वरी को बाहर निकाला, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। बाकी दोनों आगे बह गए थे। सूचना मिलने पर पुलिस और गोताखोरों की टीम पहुंच गई है। इस दौरान काफी मशक्कत के बाद महिला का शव बरामद हो गया है। पिता और बेटी की तलाश की जा रही है। हादसा पथरिया थाना क्षेत्र में हुआ है।ग्रामीणों ने हादसे की सूचना पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस के साथ ही गोताखोरों की टीम भी पहुंच गई। पिता-पुत्री को तलाश करने का प्रयास जारी है। अभी तक उनका कुछ पता नहीं चल सका है। पुलिस ने बताया कि हादसा बगबुड़वा गांव से करीब 4 से 5 किमी दूर हुआ है। हादसे का शिकार परिवार नदी के पास ही बाड़ी में काम करते थे।

आज भी वहीं काम करने के लिए गए थे। हादसे में परिवार के नदी में डूबने की सूचना मिलने पर कलेक्टर अजीत बसंल और पुलिस अधीक्षक डीआर चावला भी मौके पर पहुंच गए है। गोताखोरों की टीम नदी में पिता-पुत्री की तलाश कर रही है, लेकिन बहाव तेज होने के कारण उनका अभी तक कुछ पता नहीं चल सका है। वहीं कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी को नियम के तहत मामला बनाने को कहा है।

Related Articles