देश

पुराने घर की खुदाई में न‍िकला सम्राट अशोक के काल का चबूतरा, 42 सेमी लंबी होती थी ईंट

मेरठ 

यूपी के मेरठ शहर में बिजली घर के पास एक पुराने घर की खुदाई के दौरान ईंटों से बना चबूतरा मिला है जो कि मौर्य काल के आसपास का है. बचे हुए चबूतरे की लंबाई 29 मीटर, चौड़ाई 30 मीटर और ऊंचाई 2 मीटर के आसपास है. इसमें जो ईंट लगी है वह 42 सेंटीमीटर लंबी, 26 सेंटीमीटर चौड़ी और 8 सेंटीमीटर मोटी है जो कि मौर्य काल के सम्राट अशोक के आसपास की है. सम्राट अशोक का राज्यकाल ईसा पूर्व 269 से, 232 ईसा पूर्व रहा है. दरअसल, मेरठ के हलचल भरे शहर के बीच वर्षों से अवशेष पर किसी का ध्यान नहीं गया, हालांकि पहली नजर में इसमें कुछ खास नहीं था इसके आसपास निर्माण होने से इसका एक बड़ा हिस्सा अब नहीं है. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) का कहना है कि अवशेषों की पहचान मौर्य काल की एक ईंट मंच के रूप में की गई है जो 2 हजार साल से अधिक पुरानी है. संरचना की लंबाई 29 मीटर, चौड़ाई 30 मीटर और ऊंचाई 2 मीटर चबूतरे के रूप में है. मेरठ सर्कल के भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण अधिकारी ब्रजसुंदर गडनायक ने बताया क‍ि चबूतरे में जो ईंट मिली है वह 42cm×26cm×8cm साइज़ की है. उनका कहना है कि यहां पर चिन्हित करके अब और खुदाई भी की जाएगी और कुछ और सामान मिलने की संभावना भी पूरी है. उनका कहना है कि जिस साइज की ईंट इस चबूतरे में मिली है वह अशोक सम्राट के मौर्य काल के आसपास की ही है. हालांकि, अभी उनका कहना है कि इसमें काम चल रहा है और इसमें कुछ ज्यादा कह पाना अभी जल्दबाजी होगा.

Related Articles