देश

टीम इंडिया की बड़ी जीत…..अफगानिस्तान को 66 रनों से हराया

नई दिल्ली

T-20 वर्ल्डकप में टीम इंडिया को पहली जीत नसीब हुई है. भारत ने बुधवार को खेले मुकाबले में अफगानिस्तान को 66 रनों से हराकर बड़ी जीत हासिल की है. इसी के साथ प्वाइंट टेबल में टीम इंडिया का खाता खुला है और अब वह ग्रुप-2 में 2 प्वाइंट के साथ चौथे नंबर पर पहुंच गई है. इस बड़ी जीत के साथ टीम इंडिया का नेट-रनरेट भी पॉजिटिव में पहुंच गया है, इससे पहले ये नेगेटिव में था. टीम इंडिया ने अबतक 3 मैच खेले हैं, इनमें से एक मैच जीता है. अब टीम इंडिया का नेट-रनरेट +0.073 हो गया है.

क्या अब भी सेमीफाइनल में पहुंच पाएगी टीम इंडिया?

भारत को अपना नेट-रनरेट पॉजिटिव में लाने के लिए अफगानिस्तान को 63 या उससे अधिक रनों से हराना था, टीम इंडिया ने ऐसा ही कर लिया है. इसी के साथ नेट-रनरेट +0.073 पहुंच गया है. टीम इंडिया के लिए सेमीफाइनल में पहुंचने का रास्ता अभी भी बचा है, उसे अपने आने वाले दो मैच भी बड़े अंतर से ही जीतने होंगे.

हालांकि, ये टीम इंडिया का सेमीफाइनल का रास्ता साफ नहीं करेगा. उसके लिए अफगानिस्तान को चमत्कार करना होगा और न्यूजीलैंड को मात देनी होगी. अगर अफगानिस्तान किसी भी तरह न्यूजीलैंड से जीत जाता है, तब भारत के सामने नामीबिया के मैच में सारे कैलकुलेशन करने का वक्त होगा.

टीम इंडिया के लिए अच्छी बात ये है कि अफगानिस्तान अगर न्यूजीलैंड को हराता है, तो उसके लिए कोई बड़ा स्कोर नहीं चाहिए. यानी अगर अफगानिस्तान एक रन से भी जीतता है, तो भी टीम इंडिया को फायदा होगा. दूसरा बड़ा प्वाइंट ये भी है कि भारत के लीग मैच आखिरी में हैं, ऐसे में टीम इंडिया को पहले ही पता होगा कि उन्हें कितना नेट-रनरेट टारगेट करना है.

भारत के आने वाले मैच:

भारत बनाम स्कॉटलैंड – 5 नवंबर
भारत बनाम नामीबिया – 8 नवंबर

ग्रुप-2 के बाकी मैच
न्यूजीलैंड बनाम नामीबिया- 5 नवंबर
न्यूजीलैंड बनाम अफगानिस्तान – 7 नवंबर
पाकिस्तान बनाम स्कॉटलैंड – 7 नवंबर

अफगानिस्तान के खिलाफ रंग में लौटी टीम

पाकिस्तान, न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया पूरी तरह अपनी लय में नहीं दिखाई दी थी. लेकिन अफगानिस्तान के खिलाफ भारतीय बल्लेबाजी पूरे रंग में दिखाई दी. रोहित शर्मा, केएल राहुल की जोड़ी ने शानदार शुरुआत दिलवाई और बाद में ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या ने धुआंधार बैटिंग की.

वहीं अगर बॉलिंग की बात करें तो मोहम्मद शमी ने भी विकेट लिए, साथ ही रविचंद्रन अश्विन का चार साल बाद टी-20 फॉर्मेट में वापस आना टीम इंडिया के लिए लाभदायक रहा. अश्विन ने अपने चार ओवर में दो विकेट लिए और सिर्फ 14 ही रन दिए.

Related Articles