छत्तीसगढ़

निजी और शासकीय स्कूलों में 2 सितम्बर से 6 वीं, 7 वीं, 9 वीं एवं 11वीं की ऑफलाईन कक्षाओं को शर्तों के साथ संचालन की अनुमति,

  • कक्षाएं वहां जहां पॉजिटिविटी दर 7 दिनों तक 1 प्रतिशत से कम,
  • ऑफलाईन कक्षाओं में प्रतिदिन केवल आधी संख्या में ही विद्यार्थी बुलाऐ जाएंगे,

रायपुर

प्रदेश में स्कूलों में ऑफलाईन कक्षाएं प्रारंभ करने के संबंध में राज्य शासन द्वारा विगत 26 जुलाई को निर्णय के अनुक्रम में सभी निजी और शासकीय विद्यालयों में 6वीं, 7वीं, 9वीं एवं 11वीं की ऑफलाईन कक्षाएं अब 2 सितम्बर से शर्तों के साथ संचालन करने की अनुमति प्रदान कर दी है। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इस संबंध में आज यहां मंत्रालय से आदेश जारी कर दिया है।

इसे भी पढ़े…. तलाक के बाद भी पति से अलग नहीं हो सकती पत्नी, रूढ़िवादी यहूदियों में अजीब नियम

ऑफलाईन कक्षाएं प्रारंभ करने की शर्तो के अनुसार स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत सभी निजी एवं शासकीय विद्यालयों में कक्षा 6वीं, 7वीं, 9वीं एवं 11वीं की कक्षाएं प्रारंभ करने के संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों के लिए संबंधित ग्राम पंचायत और स्कूल की पालक समिति की अनुशंसा प्राप्त करना आवश्यक है। शहरी क्षेत्रों के लिए संबंधित वार्ड पार्षद एवं स्कूल की पालक समिति की अनुशंसा प्राप्त करना जरूरी है। उनकी अनुशंसा प्राप्त होने पर ही यह कक्षाएं सोमवार 2 अगस्त 2021 से प्रारंभ की जा सकेंगी।

इसे भी पढ़े…. जांजगीर : शराब के अवैध परिवहन, विक्रय के विरुद्ध जिला प्रशासन सख्त….6 वाहन राजसात

आदेश की शर्तो के अनुसार यह कक्षाएं उन्हीं जिलों में प्रारंभ की जाएगी, जिनमें कोरोना की पॉजिटिविटी दर 7 दिनों तक 1 प्रतिशत से कम रही हो। विद्यार्थियों को ऑफलाईन कक्षाओं में एक दिवस के अंतर पर बुलाया जाएगा, अर्थात प्रतिदिन केवल आधी संख्या में ही विद्यार्थी बुलाऐ जाएंगे। किसी भी विद्यार्थी को यदि सर्दी, खांसी, बुखार आदि होगा तो उसे कक्षा में नहीं बैठाया जाएगा। आदेश अनुसार ऑनलाईन कक्षाएं यथावत संचालित की जाती रहेंगी। किसी भी विद्यार्थी के लिए उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी। केन्द्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी कोरोना संक्रमण से बचाव के निर्देशों का पूर्णतः पालन सुनिश्चित करना होगा। आदेश में सभी शिक्षण संस्थाओं के कमरों की साफ-सफाई ठीक प्रकार से करने को कहा गया है।

Related Articles