जांजगीर चांपा

आदेश की अवहेलना: कार्यपालन अभियंता PWD को कारण बताओ नोटिस जारी

जांजगीर-चांपा

कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने मानसून में प्राकृतिक आपदा से बचाव एवं राहत व्यवस्था के संबंध में बाढ,अतिवृष्टि की स्थिति पर सतत् निगरानी रखने तथा सूचना के आदान-प्रदान हेतु जिला स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष में ड्यूटी आदेश का पालन नहीं करने पर लोक निर्माण विभाग चांपा के कार्यपालन अभियंता श्री केशव प्रसाद लहरे को ‌कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

इसे भी पढ़े- छत्तीसगढ़: 225 निजी स्कूलों में लग गया ताला… विधानसभा में सरकार के दिए आंकड़े…

जारी आदेश में कहा गया है किजांजगीर-चाम्पा जिले में वर्षा ऋतु में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न होने की प्रबल संभावना बनी हुई है। जिसके कारण बाढ़ राहत/बचाव का कार्य महत्वपूर्ण हो गया है। आदेशानुसार आपको जिला स्तरीय बाढ नियंत्रण कक्ष में संलग्न किये जाने हेतु आदेशित किये जाने के बाद भी अपनी उपस्थिति नहीं दी है, जो कि उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना के साथ ही शासकीय कार्यों के प्रति आपकी उदासीनता का द्योतक है।

इसे भी पढ़े-सदन में गूंजा धान का उठाव नहीं होने का मुद्दा, विपक्ष ने सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

जो कि छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 03 के विपरीत है। उक्त संबंध में कार्यपालन अभियंता से कहा गया है कि कारण बताएं कि क्यों उनके विरुद्ध कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए। उन्हें अपना जवाब 03 दिवस के भीतर संयुक्त कलेक्टर, कलेक्टर कार्यालय जांजगीर-चांपा के समक्ष उपस्थित होकर प्रस्तुत करने कहा गया है नियत समायावधि के भीतर जवाब प्राप्त नही होने पर कार्यपालन अभियंता के विरुद्व एक पक्षीय कार्यवाही की की चेतावनी दी गई है।

इसे भी पढ़े-  शासकीय और निजी स्कूलों में कक्षा 10वीं और 12वीं की कक्षाएं 2 अगस्त से होंगी शुरू

Related Articles